Jeet Aapki Book Review in Hindi

Jeet Aapki – जीत आपकी | Book review in Hindi 2020

क्या आप सफल होना चाहते हैं ? अगर हाँ तो Jeet Aapki किताब आपके लिए हैं और बने रहिये इस आर्टिकल के साथ |

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारी वेबसाइट readlore.com में , बहुत से लोग मुझसे पूछते हैं कि ऐसी कौनसी किताब है जो Motivation से भरपूर हो ,जिसे पढ़कर हम जिंदगी में सफलता हासिल कर सके|

तो आज मै ऐसी ही एक किताब का Review (समीक्षा ) करने वाला हूँ जिसका नाम हैं Jeet Aapki Book by Shiv Kheda .

सिर्फ किताबे पढ़कर ही हम सफल या अमीर नहीं हो सकते है सफल होने के लिए हमें किताबो में लिखी गई बातो पर अमल करना होगा ,उन्हें अपनी जिंदगी में उतरना होंगा और जिंदगी के हर पढ़ाव पर आजमाना होंगा तभी हम सफल हो सकते हैं |

Jeet Aapki किताब किसे पढ़नी चाहिए ?

  • जो अपने लक्ष्य में सफल होना चाहते है|
  • खुशहाल जिंदगी जीना चाहते हैं|
  • अपने सपनो को पूरा करना चाहते हैं|
  • एक अच्छी शख्शियत बनना चाहते हैं|

Jeet Aapki किताब हर उस इंसान को पढ़नी चाहिए जो अपनी जिंदगी में कुछ करके दिखाना चाहता हो चाहे वो कोई भी क्षेत्र हो | इससे कोई फर्क नहीं पढता हैं की उसे Student, Job करने वाला या Businessman होना चाहिए |यह किताब सभी के लिए हैं |

इस किताब से हम क्या सीखने वाले हैं ?

  • अपनी कमजोरियों को खूबियों में बदलकर सफलता हासिल करना|
  • परिस्तिथियों को अपने ऊपर हावी होने देने के बजाय उन पर काबू पाना|
  • कामयाबी के लिए जरुरी कदम उठाना|
  • नए लक्ष्य बनाना और उसे हासिल करना|
  • आने वाले भविष्य के लिए कार्य योजना बनाना|
  • अपनी रुकावटों को हटाकर असरदार बनना चाहिए|

लेखक ( Author ) के बारे में –

शिव खेड़ाजी का जन्म धनबाद , झारखंड में हुआ था | शिव खेडाजी लेखक होने के साथ साथ एक Motivational Speaker ,सफल Businessman , शिक्षक भी हैं | ये अमेरिका में “क्वालिफाइड लर्निंग सिस्टम इंक ” के संस्थापक हैं |

shiv kheda quote

शिव खेड़ा जी 12 किताबो के लेखक हैं जिसमे विश्व प्रसिद्ध किताब “जीत आपकी “( jeet aapki ) शामिल हैं , जिसकी 32 लाख से भी ज्यादा कॉपिया 16 भाषाओं में बिक चुकी हैं | उनकी दूसरी किताब ” You Can Sell “ सबसे अधिक बिकने वाली किताबो में से एक हैं |

मोटिवेशनल स्पीकर बनने से पहले शिव खेड़ा जी ने कार वॉशर , जीवन बीमा सलाहकार और फ्रैंचाइज़ी ऑपरेटर के रूप में काम किया |

jeet aapki किताब के बारे में – 

jeet aapki book

किताब का शीर्षक – जीत आपकी
किताब के लेखक – शिव खेडा जी
पेजों की संख्या – 292
किताब की भाषा – हिंदी
और यह किताब English भाषा में भी उपलब्ध हैं |
प्रकाशक का नाम – Bloomsbury Publishing India PVT. LTD.

इस पुस्तक की समीक्षा करने से पहले “जीत आपकी” किताब के कुछ मोटिवेशन विचारों को देखते हैं जिन्हे महान लोगो ने कहा हैं –

“यूनिवर्सिटी की पहली जिम्मेदारी ज्ञान देना और चरित्र निर्माण होता हैं, न कि व्यापारिक और तकनीकी शिक्षा देना|”

       – विंस्टन चर्चिल 

” इंतजार करने वालों को अच्छी चीजे मिलती तो हैं, पर केवल ऐसी चीजें ही मिलती हैं, जिन्हे कोशिश करने वाले छोड़ देतें हैं|

       – अब्राहम लिंकन 

बाधाएँ ऐसे डरावनी चीजे हैं, जो लक्ष्य से आँखे हटने पर आपको दिखती हैं|

                                                                                             - हेनरी फोर्ड 

जीत आपकी किताब की समीक्षा –

Jeet Aapki, Motivational Book हैं |दूसरे नजरिए से देखा जाये तो यह एक निर्माण पुस्तिका भी हैं क्योकि इस किताब में ऐसे बेहतरीन बातो को बताया गया हैं जिसे अगर हम अपने जीवन में उतारते है तो इससे व्यक्ति के अच्छे चरित्र का विकास किया जा सकता हैं |

यह किताब कामयाबी के लिए जरुरी नियमों और खुशहाल , भरपूर जिंदगी जीने के अलावा जीवन के हर कदम पर कामयाबी का सपना देखने से लेकर उसे पूरा करने तक के तरीको के बारे में बताती हैं |

इस किताब में नजरिए (Attitude) को बहुत महत्व दिया गया हैं क्योकि नजरिए का महत्व हमारे लिए उतना ही महत्वपूर्ण हैं जितना मछली के लिए पानी | अगर मछली को पानी से बाहर निकल लिया जाए तो वह मर जाएँगी ठीक उसी तरह हर इंसान का किसी क्षेत्र या काम में सफल या असफल होना उसके नजरिए से ही तय होता हैं |

हमारा नजरिया हमारे निजी और व्यवसायिक जिंदगी पर बहुत असर डालता हैं चाहे वह Student, माता-पिता, शिक्षक, सेल्समेन, मालिक या कर्मचारी हो अच्छे नजरिए के बिना वे सभी अपना किरदार नहीं निभा सकते हैं |

Jeet Aapki  किताब में बताया गया हैं की हमारा सकारात्मक और नकारात्मक नजरिया तीन बातो से तय होता हैं –

  • माहौल (Environment ),
  • तजुरबा (Experience )
  • और शिक्षा (Education ) |

अगर हमारा नजरिया नकारात्मक हैं, तो समझ लीजिये की हम जिंदगी के सीमाओ में कैद हैं और अगर हमारा नजरिया सकारात्मक हैं तो हम किसी भी समस्या में अवसर को ढूंढ सकते हैं |

सकारात्मक नजरिए को विकसित करने और उसे कायम बनाये रखने के लिए Jeet Aapki किताब में कुल 8 तरीके बताये गए हैं अगर हम इन तरीको पर अमल करे तो हम निश्चित ही सफल हो जायेंगे |

इस किताब में सफल और असफल व्यक्ति के सोच के बारे में बताया गया हैं ,बड़ी सफलता हासिल करने वाले लोगो को पता होता हैं कि उनके सोचने का तरीका ही उनकी कामयाबी को तय करता हैं | किसी व्यक्ति को अपने मंजिल तक पहुंचने के लिए जिन बाधाओं का सामना करना पड़ता हैं उन बाधाओं से कैसे लड़ा जाये , कैसे जीत हासिल की जाये इन सब के बारे में विस्तार से बताया गया हैं |

इस किताब के हर अध्याय में आपको छोटी-छोटी कहानियाँ, कविताएँ और बहुत ही अच्छे विचार पढने को मिलेंगे जो हमारे जीवन से कही न कही सम्बंधित हैं और जो हमारे जीवन पर लागु होते हैं | जिस तरह फूलों की माला को एक-एक फूल से पिरोया जाता हैं उसी तरह यह किताब भी बहुत ही प्रेरक कहानियों, कविताओं, तकनीकों और विचारों से पिरोई गई हैं|

उन सभी विचारो मे से मुझे एक विचार बहुत ही अच्छा लगा जिसे मैंने अपने जीवन में उतरना शुरू कर दिया हैं और उससे मुझे बहुत ही अच्छे परिणाम देखने को मिल रहे हैं जो की इस प्रकार हैं –

                                          ” अगर आप सचमुच सफल होना चाहते हैं, तो उन कामो को
                                                    करने की आदत डालिये, जिन्हे असफल लोग नहीं करते हैं |”

आज के इस मुश्किल दौर में सफलता पाना इतना आसान नहीं हैं अगर सफलता पाना हैं तो हमें उन चीजों को देखना होगा जो हमें पीछे की तरफ धकेल रही हैं तो यहाँ उन्ही कारणों के बारे में बताया गया हैं जो सफलता के बीच में बाधा बने हुए हैं |

उन्ही कारणों में से एक हैं अच्छा चरित्र (अच्छा शख़्सियत) का होना | जिसे उड़ना सीखना हो, उसे पहले खड़ा होना, चलना और दौड़ना आना चाहिए तभी वह उड़ पाएंगा |

ठीक उसी तरह अच्छा चरित्र विकसित करने के लिए बहुत सी बातो को ध्यान में रखना पड़ता हैं जैसे जिम्मेदारी लेना, अपनी गलतियों को कबुल करके उनसे सीखना,  ऐसे ही 25 तरीको के बारे में इस किताब में बताया गया हैं जिसे आप अपने जीवन में उतारकर एक अच्छी शख़्सियत बन सकते हो |

 अगर हमें अपनी शख़्सियत को खुशनुमा और आकर्षित बनाना हैं तो उसमे एक चीज की भूमिका बहुत ही अहम होती हैं ओर वो है हमारी आदतें | हमारे चरित्र का निर्माण हमारी आदतें करती हैं इसलिए हमें हमेशा अच्छी आदतों को ही अपनाना चाहिए क्योंकि हमारी आदतें ही सफलता और असफलता की ओर ले जाती हैं |

किसी ने सच ही कहा हैं कि “हमारे विचार काम की तरफ ले जाते हैं, काम से आदते बनती हैं, आदतों से चरित्र बनता हैं, और चरित्र से हमारा भविष्य बनता हैं |” हमारी आदते हमारे चेतन और अवचेतन मन पर निर्भर होती हैं |

Jeet Aapki किताब में आदतों को कैसे बदले इसका 21 दिनों का फार्मूला दिया गया हैं |

इस किताब में मुझे अध्याय 8, 9 और 10 बहुत ही ज्यादा अच्छे लगे क्योकि इन अध्यायों में चरित्र, आदतें और लक्ष्य के बारे में बतात गया हैं | हमारा लक्ष्य कैसा होना चाहिए?, लक्ष्य क्यों जरुरी हैं?, हम अपने लक्ष्य को कैसे हासिल कर सकते हैं? इन सभी सवालो के जवाब आपको इस किताब में मिलने वाले हैं |

SMART Goal

Negative Point of this Book –

कुछ बाते जो मुझे इस किताब की अच्छी नहीं लगी इस किताब की पेजो को गुणवत्ता (Quality) अच्छी नहीं हैं लेकिन इतनी अच्छी हैं कि आपको इसे पढ़ने में कोई भी परेशानी नहीं होंगी |

साथ ही इसमें बहुत सी छोटी-छोटी कहानिया और कविताएं हैं जो मुझे कही न कही थोड़ा सी अच्छी नहीं लगी लेकिन ये कहानियाँ और कविताएँ बहुत ही प्रेरक हैं|

तो यह किताब ऐसे ही मोटिवेशनल विचारों, कहानियों, व्यवहारिक तरीकों से सजी हुई हैं | अगर आपका जीवन में कोई लक्ष्य हैं, सपना हैं जिसे आप हासिल करना चाहते हो तो एक बार ये किताब आपको जरूर पढ़नी चाहिए|

इस किताब के हर अध्याय के अंत में एक कार्य योजना (Action Plan) दी गई हैं जिसे अपनाकर (follow) करके आप अपने लक्ष्य में सफल हो सकते हो

दोस्तों अगर आपको हमारा ये article अच्छा लगा तो आप अपने दोस्तों और ऐसे लोगो को जिन्हे किताबे पढ़ना पसंद हैं उन्हें आप share करें| आपके share करने से हमें मोटिवेशन मिलता हैं जिससे हम आपके लिए ऐसे ही किताबो की समीक्षा कर सके |

और आपको इस article से सम्बंधित या कुछ भी पूछना हो तो आप हमें comment करके बता सकते हैं |
या फिर आपका कोई सुझाव है तो आप हमें हमारी email id chandeeshwar89@gmail.com पर भेज सकते हैं |

आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद |

  जरूर पढ़े –   Rich Dad Poor Dad Book Review In Hindi 

 

 

Leave a Comment